दीदीजी फाउंडेशन के सौजन्य से 51 पत्रकारों को मिला परिवर्तन मीडिया सम्मान.

0
146

राष्ट्र के निर्माण में पत्रकारों की भूमिका महत्वपूर्ण : डा. नम्रता आनंद

सशक्त समाज के निर्माण में शिक्षकों और पत्रकारों की भूमिका मत्वपूर्ण : राजीव रंजन प्रसाद

पटना, सामाजिक संगठन दीदीजी फाउंडेशन ,बिहार अराजपत्रित प्रारंभिक शिक्षक संघ के संयुक्त तत्वाधान में दीदीजी फाउंडेशन की संरक्षक, मार्गदर्शक और अविस्मरणीय समाज सेविका स्व.फुलझड़ी देवी जी की पुण्यतिथि के पावन अवसर पर अवकाश प्राप्त शिक्षकों के मिलन, विदाई एवं परिवर्तन मीडिया सम्मान का आयोजन किया गया।

राजधानी पटना के कुरथौल (राजपूताना) फूलझरी गार्डेन में दीदीजी फाउंडेशन की संरक्षक, मार्गदर्शक और अविस्मरणीय समाज सेविका स्व.फुलझड़ी देवी जी की पुण्यतिथि के पावन अवसर पर अवकाश प्राप्त शिक्षकों के मिलन, विदाई एवं सम्मान समारोह 2021 का आयोजन किया गया। इस अवसर पर 51 पत्रकारों को परिवर्तन मीडिया सम्मान से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि पूर्व केन्द्रीय मंत्री और सांसद राम कृपाल यादव, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री सुमित कुमार सिंह, पद्मश्री विमल जैन, जीकेसी के ग्लोबल अध्यक्ष राजीव रंजन प्रसाद, पूर्व विधायक अजय प्रताप सिंह, अरुण मांझी, भाजपा कला-संस्कृति प्रकोष्ठ बिहार के प्रदेश अध्यक्ष बरुण कुमार सिंह, करणी सेना के प्रदेश अध्यक्ष बी .के.सिंह, कदम के अध्यक्ष सबीउद्दीन अहमद समेत दीदी जी फाउंडेशन के अध्यक्ष अवकाश प्राप्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री अनिल कुमार वर्मा, मिथिलेश सिंह राजू सिंह चुन्नू सिंह कई अन्य लोग भी उपस्थित थे।

कार्यक्रम का संचालन अखौरी योगेश कुमार, शिखा स्वरूप ने संयुक्त रूप से किया। सुप्रसिद्ध गायक दिवाकर कुमार वर्मा ने अपनी दिलकश आवाज से लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया। अवकाश प्राप्त शिक्षक आनंद झा, ग्लोबल कायस्थ कॉन्फ्रेंस मीडिया सेल के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रेम कुमार, जदयू कलमजीबी प्रकोष्ठ के महासचिव अनुराग समरूप और समाजसेवी चुन्नू सिंह को विशिष्ठ अतिथि के तौर पर सम्मानित किया गया।
कार्यक्रम की शुरूआत दीप प्रज्जवलित कर की गयी। इसके बाद आगंतुक अतिथियों को फूल-बुके और मोमेंटो देकर सम्मानित किया गया। दीदी जी फाउडेशन की संस्थापिका श्रीमती नम्रता आनंद ने बताया कि स्व़ फुलझरी देवी एक ऐसी महिला थी जो हर समाज के लोगो में प्यार खुशी बांटती थी। वह गरीबो की मसीहा के रूप में थी। गरीब व्यक्तियों को वह पैसा और कपड़े देकर उनकी मदद किया करती थी। उन्होंने बताया कि मिथिलेश कुमार सिंह ने अपनी पत्नी की स्मृति में फुलझड़ी गार्डेन दीदीजी फाउंडेशन के संस्कारशाला के बच्चों को नि.शुल्क दिया है। फुलझड़ी देवी की स्मृति में 300 महिलाओं के बीच साड़ी का वितरण और 1000 लोगों को खाना खिलाया गया।उन्होंने बताया कि समाज और राष्ट्र को जोड़ने की दिशा में लोकतंत्र का चौथा स्तंभ माने जाने वाले पत्रकारों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। लोकतंत्र में पत्रकारों की भूमिका महत्वपूर्ण है। पत्रकारों के सकारात्मक सहयोग से ही विकास को गति मिलती है। समाज में पत्रकारों की अहम भूमिका को देखते हुये 51 पत्रकारों को परिवर्तन मीडिया सम्मान से सम्मानित किया गया है।

मौके पर उपस्थित श्री राम कृपाल यादव ने कहा कि वंचित तबके के बच्चों के उत्थान के लिए डा. नम्रता आनंद के नेतृत्व में दीदी जी फाउंडेशन सराहनीय काम कर रहा है। वंचित समाज के बच्चों को मुख्यधारा में लाने के लिए दीदीजी फाउंडेशन जो काम रहा है इसके लिये डा. नम्रता आनंद बधाई की पात्र हैं।

सुमित कुमार सिंह ने कहा कि डा. नम्रता आनंद के सशक्त नेतृत्व में दीदीजी फांउडेशन बाल अधिकार, महिला सशक्तीकरण, पर्यावरण, शिक्षा, स्वास्थ्य पर जमीनी स्तर पर काम कर रही है। दीदीजी फाउंडेशन महिलाओं और वंचित समाज के बच्चों के विकास को गति देने का काम कर रहा है। उन्होंने सभी पत्रकारों को बधाई एवं उनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए कहा कि लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पत्रकारिता की राष्ट्र के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका होती है। पत्रकार सामाजिक कुरीतियों को उजागर करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। पत्रकार के बिना लोकतंत्र अधूरा है।

जीकेसी के ग्लोबल अध्यक्ष राजीव रंजन प्रसाद ने सभी पत्रकारों को बधाई देते हुये कहा कि पत्रकार समाज का आईना दिखाने का काम करते हैं, तथा समाज में जागरूकता फैलाने का काम करते हैं।उनके प्रयासों की सराहना की जानी चाहिए। कोरोना काल में भी जिस तरह पत्रकारों ने प्रशासन के कदम से कदम मिलाकर कार्य किया है वह काबिले तारीफ है। शिक्षक हमारे जीवन में बहुत ही अहम भूमिका निभाते हैं। एक अच्छा शिक्षक समाज में अच्छे इंसान बनने और देश के अच्छे नागरिक बनने में हमारी मदद करते हैं, क्योंकि अध्यापक जानते हैं कि विद्यार्थी किसी भी देश का भविष्य है।

इस कार्यक्रम में बिहार अराजपत्रित प्रारंभिक शिक्षक संघ प्रदेश महासचिव डॉ भोला पासवान, जिला सचिव श्रीकान्त मौआर, पटना महानगर अध्यक्ष सुधीर कुमार सिंह, सचिव सूर्यकांत गुप्ता, जिला उपाध्यक्ष उदय कुमार, दानापुर अध्यक्ष मोहन पासवान,राजकीय शिक्षक सम्मान से सम्मानित शिक्षिका, एवं सचिव गौतम मुनी, अनुज कुमार, अजय किशोर प्रसाद, बीरेन्द्र सिंह, रामेश्वर पासवान, संदीप राज सोनी, रामा शंकर गुप्ता, अमित कुमार (अध्यक्ष मोकामा), अरविंद, मधुरेन्द्र कुमार मधुप, नन्द कुमार, सुधीर कुमार, एवं राकेश कुमार समेत कई अन्य शिक्षक भी उपस्थित थे।

इस अवसर पर संस्कारशाला के बच्चों ने जल जीवन हरियाली, साक्षरता, राष्ट्रीय एकता, स्वच्छ भारत अभियान, पर्यावरण, दहेज प्रथा, नशामुक्ति, देशभक्ति और शराबबंदी जैसे पहलुओं को सांस्कृतिक कार्यक्रम लोगों के बीच पेश किया। प्रस्तुति देने वाले बच्चों में निरंतरा हर्षा, नियति सौम्या, अंकित कुमार ,गौरी कुमारी, पवन कुमार ,रोहित कुमार, निशु कुमार,सोनाली, कश्यप ,प्रिया, रागिनी, सलोनी, लाडो ,खुशबू, प्रीति, प्रियंका, प्रीति, स्वीटी, श्रुति, वैष्णवी, प्रियंका, काजल, निशू ,नेहा, शिवानी ,रितिका,पीहू परी, चिंकी प्रिया, प्रिया, मुस्कान, काजल, अंजलि, अंशु, चांदनी, अंचल, काजल, नंदिनी, सुनीता रिमझिम, सिमरन,बिंदिया और रौशन समेत 75 बच्चे शामिल थे।इस कार्यक्रम को सफल बनाने में विशेष तौर पर रंजीत ठाकुर और पिंटू कुमार ने महत्वपूर्ण भूमिका निभायी। इसके अलावा निरंतरा हर्षा नियति सौम्या पवन कुमार ,गौरीकुमारी, गोलू ,रोहित, निशू प्रियंका, नेहा, ने कार्यक्रम की सफलता में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here