Indian Railways : अयोध्या से रामेश्वरम तक घुमाएगी रामायण सर्किट स्पेशल ट्रेन- पर्यटकों को दिखाएगी भगवान श्रीराम से जुड़े सभी धार्मिक स्थल

0
106

अयोध्या में जहाँ श्री राम जन्मभूमि में भगवान् राम का भव्य मंदिर का निर्माण कार्य तेज़ी से चल रहा है, तो वहीँ दुसरे तरफ मर्यादा पुरषोत्तम भगवान् श्री राम में आस्था रखने वाले हजारों- लाखों श्रद्धालुओं के लिए IRCTC के द्वारा एक स्पेशल ट्रेन चलाई जाने की तैयारी की जा रही है, जिसका मुख्य उद्देश्य श्रद्धालुओं और पर्यटकों को भगवान श्री राम से जुडी वो सभी धार्मिक स्थल घूमाना और भगवान श्री राम के बारे में सम्पूर्ण जानकारी देना होगा, IRCTC के द्वारा यह ट्रेन आने वाले 7 नवंबर से चलायी जाएगी, जिससे श्री राम से जुड़े सभी धार्मिक स्थल श्रद्धालुओं को देखने और जानने में श्रद्धालुओं को आसानी हो सके। इस ट्रेन में कुल 156 यात्री यात्रा सकेंगे, बता दें की इंडियन रेलवे के मुताबिक “दिल्ली के सफदरजंग रेलवे स्टेशन से खुलने वाली यह स्पेशल ट्रेन कुल 17 दिन का यात्रा करेगी और अपने इस 17 दिनों की यात्रा में IRCTC के ही द्वारा भगवान श्री राम से जुड़े हुए सभी धार्मिक स्थल के दर्शन और भ्रमण पर्यटकों और श्रद्धालुओं को कराया जाएगा, IRCTC (इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कारपोरेशन) का कहना है की “ऐसा पहली बार देखने को मिल रहा है जब रामायण सर्किट स्पेशल ट्रेन को आधुनिक सजावट के साथ टूरिस्ट एसी ट्रेन विशेष रूप से तैयार कराया जा रहा है और ट्रेन में एयर कंडीशन AC के सुविधाओं से युक्त कोचेस लगेंगे जिसमे फर्स्ट AC और सेकंड AC जैसे कोच की सुविधाएं मिलेंगी।

अयोध्या और रामेश्वरम तक की होगी इस स्पेशल ट्रेन की यात्रा

बता दें की यह ट्रेन आगामी “7 नवंबर को दिल्ली के सफदरजंग रेलवे स्टेशन से 17 दिनों के सफर पर रवाना होगी और भगवान श्री राम की जन्मस्थली अयोध्या इस ट्रेन के यात्रा का पहला पड़ाव होगा जहां पर सभी श्रद्धालु और पर्यटक श्री राम जन्मभूमि, हनुमानगढ़ी मंदिर और नंदीग्राम में भरत मंदिर का दर्शन कर सकेंगे, अयोध्या के बाद यह स्पेशल ट्रेन सीतामढ़ी के लिए निकलेगी जहां पर जानकी जन्म स्थान और नेपाल के जनकपुर स्थित राम जानकी मंदिर के दर्शन किए जा सकेंगे, इसके बाद ट्रेन वाराणसी के लिए प्रस्थान करेगी वाराणसी पहुंच कर श्रद्धालुओं और सभी पर्यटकों को टूरिस्ट बसों द्वारा वाराणसी के तमाम विश्व प्रसिद्ध मंदिरों के साथ-साथ सीता समाहित स्थल, प्रयागराज, श्रृंगवेरपुर और चित्रकूट की यात्रा कराइ जाएगी रात में पर्यटकों को रुकने के लिए प्रयागराज और चित्रकूट में रुकने का पूरा व्यवस्था कराया जाएगा फिर ट्रेन चित्रकूट से नासिक की ओर प्रस्थान करेगी, नासिक पहुंच कर पंचवटी और त्र्यंबकेश्वर मंदिर का भ्रमण कराया जाएगा फिर नासिक के बाद यह स्पेशल ट्रेन प्राचीन किष्किंधा नगरी हंपी पहुंचेगी, जहां पर अंजनी पर्वत स्थित भगवान हनुमान की जन्मस्थली के साथ-साथ और भी कई अन्य महत्वपूर्ण धार्मिक स्थलों के दर्शन कराए जाएंगे।

ट्रेन में पर्यटकों को मिलेंगी बेहतरीन आधुनिक सुविधाएं

इस स्पेशल ट्रेन में पर्यटकों को लगभग हर आधुनिक सुविधाए मिल सकेंगी, इस AC ट्रेन में यात्रियों के कोच के साथ-साथ खाने पीने के लिए दो अतिरिक्त रेल डाइनिंग और एक मॉडल किचन कार के साथ साथ ही यात्रियों की सुविधा के लिए मिनी लाइब्रेरी, फुट मसाजर, और साफ-सुथरे शौचालय और शावर क्यूबिकल भो मौजूद होंगे, ट्रेन और यात्रियों की सुरक्षा के लिए ट्रेन में सिक्योरिटी गार्ड भी मौजूद रहेंगे और इसी के साथ हर कोच में CCTV कैमरे भी सुरक्षा के नजर से लगे रहेंगे।

आखिर इस ट्रेन के सफर में कितना होगा किराया ?

बता दें की “इस सफर में टूर पैकेज की कीमत में यात्रियों को रेल यात्रा के अलावा वातानुकूलित बसों द्वारा पर्यटक स्थलों का भ्रमण, स्वादिष्ट शाकाहारी भोजन, AC होटलों में ठहरने की व्यवस्था, गाइड और इंश्योरेंस आदि की लगभग सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी” जिसका फर्स्ट AC का किराया ₹102095 रुपये प्रति व्यक्ति रखा गया है और बात करें सेकंड AC के किराए की तो उसका किराया ₹82950 रुपये रखा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here