योगी सरकार ने अपने 5 साल के कार्यकाल में किसानो के हित के लिए क्या-क्या कार्य किये ? पढ़ें खबर:

0
181

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के 5 साल के कार्यकाल पूरे होने वाले हैं। आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए सभी पार्टियों ने अपने प्रचार का बिगुल बजा दिया है। चुनावी मुद्दे और जनता की समस्याओं के समाधान को लेकर पार्टियों का एक दूसरे के प्रति आरोप प्रतिरोप लगा हुआ है। उत्तर प्रदेश में भाजपा को इस बार काफी समय के बाद सरकार बनाने का मौका उत्तर प्रदेश की जनता ने बड़े ही गर्मजोशी और उम्मीदों के साथ दिया था।

सूबे में भाजपा की सरकार बनते ही हमे कई बदलाव व नियम कानून लागू होते दिखे जिसमे बात महिला सुरक्षा की हो या प्रदेश में हो रही घटनाओं की। हर मुद्दों पे हमे कई बदलाव दिखे हैं अगर बात करें किसानो की तो उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के आते ही कई नई योजनाओ को किसानो के हित में योगी सरकार ने बीते 5 वर्षो में क्या किया है। भाजपा का कहना है कि किसानो के लिए कई काम किये गए हैं और पिछली सभी सरकारों से अच्छे व बिना घूसखोरी के डायरेक्ट किसानो को लाभ भी मिला है आइये जानते हैं ऐसे काम जो योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश के किसानो के लिए किया है।

योगी सरकार का बजट : यूपी में किसानों को फ्री में पानी देने के लिए मिले 700 करोड़़ रुपये

उत्तर प्रदेश सरकार में किसानो को पानी फ्री में देने के लिए 700 करोड़ रूपए दिये गये हैं और मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना के लिए 600 करोड़ रुपए रखे गए हैं ।

जानें और क्या-क्या बजट में किसानो को मिला

आत्म निर्भर भारत व कृषक समन्वित विकास योजना के- 100 करोड़ रुपए
-मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना के – 600 करोड़ रुपए
-किसानों को मुफ्त में पानी के लिए, 700 करोड़ रुपए दिए गए
-किसानों को फसली ऋण में अनुदान को 400 करोड़ रुपए
-प्रधानमंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा और उत्थान महाभियान को लेकर 15 हजार सोलर पंप स्थापना का लक्ष्य रखा गया।

आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना होगी जल्द शुरू:

प्रदेश सरकार आत्मनिर्भर भारत और कृषक समन्वित विकास योजना भी जल्द ही शुरू करने वाली है। इसके लिए वित्तीय वर्ष 2021-2022 बजट में 100 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई है। योजना में प्रदेश के सभी एग्रो क्लाईमेटिक जोन में ज्यादा होने वाली फसलों की पहचान कर , कृषि के लिए नई तकनीक और निवेश को बढ़ावा, चयनित उत्पादों का मूल्य संवर्धन, विपणन के लिए बाजार तैयार करने और हर ब्लॉक स्तर पर कृषक उत्पादन संगठनों की स्थापना करने की योजना है।

उत्तर प्रदेश में विकसित होगी आधुनिक मंडियां:

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार किसानों को उनके फसल का उचित दाम दिलाने के लिए 27 आधुनिक मंडियां विकसित करने की तैयारी में है। उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में राजकीय कृषि विद्यालय के पास 18 करोड़ लागत रुपए से बन रहे कृषक प्रशिक्षण छात्रावास का निर्माण अंतिम चरण में है। इस छात्रावास के संचालन से जनपद के साथ पश्चिमी उत्तर प्रदेश के 22 जनपदों के किसानों को भी लाभ मिलेगा। यहाँ पर किसानों को आधुनिक खेती और बागवानी आदि करने के लिए कृषि वैज्ञानिक और विभागीय अधिकारियों के द्वारा समय समय पर ट्रेनिंग दी जाएगी।

UP के 25 लाख किसानों के लिए आय दोगुनी करने के लिए जानें योगी सरकार ने दिया तोहफा:

किसानों की आय को दो गुना करने के मकसद से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने करीब 25 लाख से ज्यादा किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड योजना से जोड़ने का कदम उठाया ।

केसीसी के अंतर्गत किसानों को बीज, फसल उत्पादन और भूमि की तैयारियां, उर्वरकों और अन्य तरह की आवश्यकताओं के लिए रियायती दर पर प्रदेश में ऋण उपलब्ध कराया जाता है। इससे कृषि क्षेत्र में चलने वाले पूंजी संकट का समाधान होगा जो कि फसलों के उत्पादन को और बिक्री को सीधे रूप से प्रभावित करता है।

योगी सरकार ने किसानों को सीधे केसीसी के माध्यम से आर्थिक सहायता प्रदान करके ,फसल के मौसम से पहले ही नकदी की कमी और पैसों की कमी जैसे मुद्दों को दूर करने की पूरी मदद करने के लिए काफी प्रभावी उपाय किए हैं जिसके वजह से राज्य के किसान अपनी अपनी खेतों की उपज का उचित मूल्य पाकर काफी खुश लग रहे हैं। एक सरकारी प्रवक्ता ने इस योजना को कहा कि स्वामीनाथन समिति के अनुसार, सरकार ने फसल खर्च में न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर 64,000 करोड़ रुपया खर्च किया है और इसमें फसलों की खरीद की पारदर्शी प्रक्रिया भी स्पष्ट रूप से हो रही है और 72 घंटों के अंदर ही किसानों के खाते में भुगतान किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here