सपा सांसद “एसटी हसन” को देश का राष्ट्रगान तक नही याद, पहली लाइन के बाद भूल गए राष्ट्रगान, दाएं बाएं देखा और सीधा जय हे जय हे बोल चले गए।

0
282

आज देश अपना 75वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा और इसी मौके पर मुरादाबाद से सांसद डॉ. एसटी हसन गलशहीद थाने के पास गलशहीद पार्क में सुबह करीब 10 बजे ध्वजारोहण करने पहुंचे। सांसद जी ने झंडा फहराया और आस- पास मौजूद सभी लोग जोर- जोर से राष्ट्रगान गाना शुरू किया, सांसद जी भी अपने लय में जोर से राष्ट्रगान गा रहे थे। लेकिन पहली लाइन के बाद दूसरी लाइन में आते ही सांसद जी भूल गए की अब हमारे राष्ट्रगान की दूसरी पंक्ति क्या है। सिर्फ सांसद ही नही वहां मौजूद लोगो को भी राष्ट्रगान नही याद सब एक दूसरे को झांकने लगे। सांसद ने अपने दोनों तरफ नजरें दौड़ाकर देखा। इस बीच एक व्यक्ति जेब से मोबाइल निकाला, लेकिन दूसरी पंक्ति पर ही राष्ट्रगान बीच में अटक जाने से सांसद असहज हो चुके थे। सांसद ने धीरे-धीरे जय हे जय हे… बोलना शुरू किया। इसके बाद उनके बाकी साथी भी दूसरी पंक्ति से सीधा जय हे जय हे पर पहुंचे और फिर कार्यक्रम खत्म करके सांसद चले गए। लेकिन मीडिया ने इस बारे में सांसद डॉ. हसन से बात करने की कोशिश की गई, लेकिन उन्होंने कॉल रिसीव नहीं की।

विवादों से है पुराना नाता।

राम मंदिर पर डॉ. एसटी हसन ने दिया था विवादित बयान बोला आने वाले चुनाव में बीजेपी खुद का फायदा लेने के लिए राम मंदिर का चंदा लेने निकले लोगो पर पथराव करवा सकती है। सपा सांसद ने बीजेपी पर आरोप लगाया को बीजेपी राम मंदिर निर्माण के जरिए राजनीति कर रही। हसन ने कहा की बीजेपी उत्तर प्रदेश में हिंदू – मुसलमान के बीच सद्भाव को बिगाड़ कर चुनाव में फायदा ले सकती है और इसमें उसका साथ कुछ चंद पैसे के लिए मुसलमान देगे। बोला जो लोग चंदा लेने निकलेंगे उस पर कुछ मुसलमान पथराव करेगे। और इससे बीजेपी का चुनाव में फायदा होगा। और कहा पथराव के बाद जो होगा वो आप मध्य प्रदेश में देख चुके है, इसके जरिए ये मैसेज दिया जाएगा की हम ये हालात कर सकते है।

‘ताउते व यास’ तूफान को बताया बीजेपी की साजिश।

डॉ. एसटी हसन ने कहा पिछले सात सालो में ऐसे कानून बनाए गए है, जिसने शरीयत के साथ छेड़छाड़ की गई, और वही दूसरा एक और कानून बना दिया गया है। नागरिकता कानून, जिसके अनुसार सिर्फ मुसलमानों को नागरिकता नही मिलेगी। कहा सरकार के द्वारा किए गए कामों जिसमे मुसलमानों के साथ नाइंसाफीयां हुई जिसके चलते देश में दो बार बड़े तूफान आए है। उनका कहना आसमानी आफत से था जो ये साफ करता है उनका इशारा ‘ताउते व यास’ तूफान से था और वही दूसरी तरफ कोरोना के चलते हजारों लोग मर गए। ऊपर वाला इंसाफ करता है। सपा सांसद एसटी हसन का मन इतने भर से नहीं भरा। उन्होंने कहा कि जिस तरह की सरकार और हाकिम है, उन्हें अंदेशा है कि आने वाले समय में और भी आसमानी आफ़तें आ सकती है।

फिल्म अभिनेत्री जया प्रदा पर की अभद्र टिप्पणी।

मुरादाबाद के एक मुस्लिम कॉलेज में एक निजी कार्यक्रम में पहुंचे सपा के सांसद डॉ. एसटी हसन अपनी सभी मर्यादाओं को लांघते हुए महिलाओं का अपमान करते हुए रामपुर से पूर्व सांसद व फिल्म अभिनेत्री जया प्रदा पर अभद्र व अशोभनीय टिप्पणी कर डाली। जया प्रदा को ‘तवायफ’ करके संबोधित किया। जबकि उसी मंच पर रामपुर से सपा सांसद आज़म ख़ान सहित कई विधायक भी मौजूद थे। और आज़म खान के बेटे अब्दुल्ला भी मौजूद थे। दरअसल सांसद हसन आज़म ख़ान के अच्छाइयों का बखान कर रहे थे। और इसी क्रम में उन्होंने उनके ऊपर टिप्पणी कर डाली। बीजेपी से जया प्रदा ने आज़म ख़ान के खिलाफ ताल ठोकी थी। और चुनाव के दौरान आज़म खान भी उनके कपड़ों को लेकर आपत्तिजनक बयान दिया था, और आज़म के बेटे ने भी जया पर अभद्र टिप्पणी की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here