कांग्रेस के ” भारत जोड़ो यात्रा ” के दौरान चार लोग करंट लगने से घायल हो गए । यह घटना रविवार, 16 अक्टूबर की है । कर्नाटक के बेल्लारी से निकली यात्रा जब मोका नाम की जगह पर पहुंची थी, तभी चार लोगों को करंट लग गया । घायलों को इलाज के लिए हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है । यात्रा की अगुवाई कर रहे राहुल गांधी घायलों का हाल लेने हॉस्पिटल पहुंचे । कांग्रेस पार्टी महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला के मुताबिक सभी घायल खतरे से बाहर है ।

रिपोर्ट के मुताबिक यात्रा में शामिल कार्यकर्ताओं में से एक कार्यकर्ता कांग्रेस के झंडे के साथ लोहे की छड़ लिए था । जानकारी मिली है कि बिजली के तार के संपर्क में आने से उस कार्यकर्ता के साथ तीन और लोगों को करंट लग गया । रणदीप सुरजेवाला ने बताया कि मौके पर मौजूद एम्बुलेंस के डॉक्टरों ने घायलों का शुरुआती इलाज किया और फिर उन्हें हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया ।

कांग्रेस भारत जोड़ो यात्रा

घटना के बाद अस्पताल पहुंचे राहुल गांधी

घटना के बाद राहुल गांधी का भी बयान आया । उन्होंने फेसबुक पर बताया कि पोल से झंडा बांधते समय कुछ साथियों को बिजली का झटका लग गया । राहुल गांधी ने बताया कि घायलों को सिविल अस्पताल, न्यू मोका, बेल्लारी में भर्ती कराया गया है‌ ।

राहुल गांधी ने आगे लिखा, ” यात्रा में शामिल सभी लोगों से मैं कहना चाहता हूं कि जब हम भारत को एकजुट करने के मिशन में आगे बढ़ रहे हैं, तो अपने कर्तव्यों को पूरा करने के लिए सुरक्षा और काफी सावधानी बरतें । ”

कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा 7 सितंबर को कन्याकुमारी से शुरू हुई थी । 3,750 किलोमीटरका सफर पूरा करने के बाद यह यात्रा जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में खत्म होगी ।

 

कांग्रेस के भारत जोड़ो यात्रा का आज 40वां दिन

बता दें कि कांग्रेस के भारत जोड़ो यात्रा का आज 40वां दिन है । कन्याकुमारी से शुरू हुई ये यात्रा अब आंध्र प्रदेश के कर्नूल शहर पहुंच चुकी है । सैकड़ों कार्यकर्ताओं और स्थानीय लोगों के साथ राहुल गांधी हर रोज 20 से 30 किलोमीट तक पैदल चल रहे है ।

इसी बीच, राहुल और यात्रा में शामिल अन्य लोगों से बातचीत का एक वीडियो सामने आया है । इसमें राहुल गांधी अलग-अलग राज्यों से पहुंचे यात्रियों से बातचीत कर रहे है । इसमें राहुल ने यात्रा के खाली समय से लेकर मां सोनिया गांधी तक के बारे में बताया है ।

भारत जोड़ो यात्रा में शामिल सभी नेता हर रोज 20 से 30 किलोमीटर तक पैदल चल रहे है । राहुल गांधी खुद पैदल चलते है । हर रोज सुबह करीब साढ़े छह बजे यात्रा शुरू होती है और 11-12 बजे के बीच ब्रेक होता है । सभी यात्री कंटेनर में आराम करते है । दोपहर का खाना खाते है और शाम को तीन बजे से फिर यात्रा शुरू हो जाती है । यह यात्रा शाम 7 से साढ़े सात तक होती है । इसके बाद रात में सभी आराम करते है और फिर सुबह का वही रुटीन शुरू हो जाता है ।

कांग्रेस ने एक वीडियो शेयर किया है । इसमें भारत जोड़ो यात्रा में शामिल एक यात्री राहुल गांधी से यही सवाल करता है । वह पूछता है कि आप हर रोज सात से साढ़े सात बजे तक अपने कैंप में चले जाते है । इसके बाद खाली समय में क्या करते है ? इसका जवाब देते हुए राहुल कहते है , ” मैं उस दौरान कुछ एक्सरसाइज करता हूं । किताबें पढ़ता हूं । मैं अपनी मां और बहन से बात करता हूं । उनका हालचाल पूछता हूं । कुछ दोस्तों से भी बात करता हूं ।”

एक यात्री ने राहुल गांधी से उनकी त्वचा को लेकर भी सवाल पूछा । कहा कि बाहर इतनी तेज धूप होती है । उससे बचाव के लिए आप कौन सी सनस्क्रीन यूज करते हैं ? इस सवाल का जवाब देते हुए राहुल ने कहा, ” मैं कोई सनस्क्रीन यूज नहीं करता हूं । मां ने जरूर एक सनस्क्रीन भेजी है, लेकिन मैं उसे नहीं लगाता हूं ।” इसके बाद राहुल मुस्कुराते हुए टी-शर्ट के नीचे से अपना हाथ भी दिखाते है ।

कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा ने 7 सितंबर से शुरू हो गई है । राहुल गांधी ने हरी झंडी दिखाकर इसका शुभारंभ किया है । यह यात्रा 12 राज्यों और 2 केंद्र शासित प्रदेशों से गुजरकर 3570 किलोमीटर का सफर तय करेगी । साल 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले इसे कांग्रेस का बड़ा दांव माना जा रहा है ।

 

कन्याकुमीर से कश्मीर तक 3570 किलोमीटर तक चलने वाली भारत जोड़ो यात्रा के दौरान हर रोज कंटेनर के जरिए एक नया गांव बसेगा, जहां राहुल गांधी और उनके साथ चलने वाले यात्री ठहरेंगे । इसके लिए करीब 60 कंटेनर को आशियाने के रूप में तैयार किया गया है, जिन्हें ट्रकों पर रखा गया है ।

यह सभी कंटेनर राहुल यात्रा के दौरान साथ नहीं चलेंगे बल्कि दिन के अंत में निर्धारित जगह पर यात्रा में शामिल लोगों के पास इन्हें पहुंचा दिया जाएगा । रात्रि विश्राम के लिए इन सारे कंटेनर को गांव की शक्ल में हर रोज एक नई जगह पर खड़ा किया जायेगा । राहुल गांधी सुरक्षा कारणों से एक अलग कंटेनर में सोएंगे, जबकि बाकी अधिकतर कंटेनरों में 12 लोग सो सकते है । इसी कंटेनर के गांव में सभी यात्री एक टेंट में राहुल गांधी के साथ खाना भी खाएंगे, जो पूर्णकालिक यात्री राहुल गांधी के साथ रुकेंगे वे एक साथ खाना खायेंगे और आसपास ही रहेंगे ।

कन्याकुमारी में यात्रा का शुभारंभ करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि नफरत और बंटवारे की राजनीति में मैंने अपने पिता को खो दिया‌ । मैं अपने प्यारे देश को इसमें नहीं खोऊंगा । प्यार नफरत को जीत लेगा । आशा डर को हरा देगी । हम सब मिलकर मात देंगे ।

बता दें कि कांग्रेस की 3,570 किलोमीटर लंबी और 150 दिनों तक चलने वाली भारत जोड़ो यात्रा सात सितंबर को तमिलनाडु के कन्याकुमारी से शुरू हुई थी । यह जम्मू-कश्मीर में संपन्न होगी ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here