पेट फूलने की समस्या अक्सर  गलत खानपान और खराब दिनचर्या और अत्यधिक आलस की वजह से पेट संबंधी उत्पन्न विकार होती है । इनमें एक विकार पेट फूलना है । अगर आप भी पेट फूलने की समस्या से परेशान है , तो दिन की शुरूआत इन चीजों से करे और इन अपचारो को भी अपनाएं । आइए जानते हैं इन उपायों के बारे में –

पेट फूलना यानी ब्लोटिंग एक आम बीमारी हो गई है । यह बीमारी ज्यादा गैस बनने की वजह से होती है । डॉक्टरी भाषा में पेट फूलने या पेट के आसपास सूजन को गैस्ट्राइटिस भी कहा जाता है । कई बार इसके कोई लक्षण दिखाई नहीं देते हैं, जिसके कारण लोग इस बीमारी पर ज्यादा ध्यान नहीं देते । विशेषज्ञों के मुताबिक अगर इसका सही समय पर इलाज न करवाया जाए, तो यह बीमारी एक खतरनाक रूप ले लेती है ।

 

पेट फूलने की समस्या क्यों होती है  

 

पेट की अंदरूनी परत को म्यूकोसा कहा जाता है । वहीं, म्यूकोसा के भीतर छोटी-छोटी कई ग्रन्थियां होती है । यह ग्रंथियां भोजन को पचाने के लिए स्टमक एसिड और पेप्सिन नामक एंजाइम का उत्सर्जन करती है । इसी परत में सूजन आने या गैस बनने से पेट फूलने की समस्या होती है । इस दौरान स्टमक ऐसिड और पेप्सिन का उत्सर्जन नाम मात्र होता है । ऐसा तब होता है । जब आप बासी भोजन, स्ट्रीट फूड , तली भुनी चीजें आदि चीजों का अधिक सेवन करते है । साथ ही हार्मोन असंतुलन की वजह से भी यह समस्या होती है । इसके लिए खानपान पर विशेष ध्यान देना चाहिए ।

 

पेट फूलने की बीमारी के लक्षण

पेट फूलने की बीमारी को कतई नजरंदाज नहीं करना चाहिए । इसके सबसे आम लक्षणों में से एक है पेट का भरा महसूस होना । इसके अलावा बेचैनी भी होती है । डॉक्टरों के मुताबिक कई बार मरीज को पेट में दर्द, मरोड़, घबराहट, थकान और कमजोरी महसूस होने लगती है । इसके साथ ही वजन भी घटने लगता है । सिरदर्द की भी समस्या हो सकती है ।

पेट फूलने की समस्या और लक्षण

पेट फूलने या ब्लोटिंग की समस्या

ज्यादातर लोगों ने तब ब्लोटिंग महसूस करते है जब हमारा पेट खिंचा हुआ, फूला हुआ और असहज होता है । यह एक भरे पेट होने की अनुभूति है । इसके लिए कई कारण जिम्मेदार हो सकते हैं जैसे कि –

  • पेट फूलने की समस्या आपकी छोटी आंत या कोलन में गैस के कारण होती है, जो आमतौर पर तब होती है जब आपकी आंत्र में पाए जाने वाले बैक्टीरिया द्वारा भोजन का पाचन ठीक से नहीं पाता है । साथ ही फर्मेंट फूड्स का सेवन करने से भी पेट में गैस की समस्या हो जाती है ।
  • गैस की समस्या तब भी हो सकती है जब हमारा पाचन तंत्र फूड्स में मौजूद कुछ घटकों को पूरी तरह से नहीं तोड़ पाता है ।
  • कार्बोहाइड्रेट का अवशोषण खराब होने पर भी आपके पाचन तंत्र में मौजूद सहायक बैक्टीरिया का संतुलन को बिगड़ सकता है ।
  • ऐसा कब्ज के चलते भी हो सकता है। चूंकि आपके कोलन में अपचित भोजन अधिक समय तक रहता है, इसलिए इसे किण्वित या फर्मेंट होने में अधिक समय लगता है ।
  • पाचन संबंधी विकार के चलते भी ऐसा होना सामान्य है, जैसे लैक्टोज या फ्रैक्टोज असहिष्णुता या सीलिएक रोग ।

 

पेट फूलने की समस्या से छुटकारा पाने का तरीका 

विशेषज्ञों के मुताबिक कई घरेलू उपायों से भी इस बीमारी का इलाज किया जा सकता है । खास बात तो यह है इन घरेलू उपायों के कोई साइड इफेक्ट्स भी नहीं होते है । आयुर्वेद एक्सपर्ट के मुताबिक पेट फूलना यानी ब्लोटिंग आंतों के खराब स्वास्थ्य का एक लक्षण है । ब्लोटिंग से राहत पाने के लिए घरेलू उपायों का इस्तेमाल करना बुरा या गलत नहीं है, लेकिन इस बीमारी से हमेशा के लिए राहत पाने के लिए आपको इसका कारण खोजने और उसका इलाज करने की आवश्यकता है ।

 

पेट फूलने की समस्या से निजात पाने के लिए अपनाएं ये घरेलू उपाय

  •  खाने के 45 मिनट बाद आधा चम्मच आजवाइन को सेंधा नमक के साथ गर्म पानी के साथ लें ।
  • पूरे दिन पुदीने का पानी पिएं। ये पेट फूलने की समस्या से निपटने में कारगर माना गया है ।
  • खाने के एक घंटे बाद इलायची का पानी पिएं, यह भी कारगर है ।
  •  खाने से पहले दिन में तीन बार जीरा, धनिया और सौंफ के बीज की चाय पिएं ।

पेट फूलने की समस्या

पेट फूलने पर अपनाएं इन चीजों का करें सेवन –

  • बाजरा हमारे सेहत के लिए वरदान माना जाता है । इसके सेवन से मोटापा और मधुमेह समेत कई बीमारियों में आराम मिलता है । इसमें मैग्नीशियम, फाइबर, कैलोरी, कैल्शियम, फास्फोरस, आयरन, टीन समेत कई आवश्यक पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो सेहत के लिए फायदेमंद होते है । बाजरा चीला के सेवन से पेट संबंधी विकारों में बहुत आराम मिलता है । इसलिए आप चाहें तो इसे भी अपने नाश्ते में शामिल करें ।
  • हल्दी में एंटी इंफ्लेमेटरी के गुण पाए जाते हैं, जो सेहत के लिए फायदेमंद साबित होते है । इससे पेट संबंधी विकारों में आराम मिलता है । साथ ही पेट फूलने की समस्या में आराम मिलता है । इसके लिए आप सुबह नाश्ते में हल्दी युक्त अंडे की भुर्जी का सेवन कर सकते है । अंडे में प्रोटीन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है । इसके सेवन से आपको तत्काल ऊर्जा की प्राप्ति होती है ।
  • पपीता में कई आवश्यक पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो पेट संबंधी बीमारियों में फायदेमंद होते हैं । डॉक्टर हमेशा पेट संबंधी परेशानियों को दूर करने के लिए पपीता खाने की सलाह देते है । आप सुबह के नाश्ते में पपीते के सलाद का सेवन कर सकते है । आप स्वाद अनुसार पपीते के सलाद में अन्य चीजों को शामिल कर सकते है ।

पेट फूलने की समस्या में इस चीजों से रहे दूर

  •  खाने के बाद ज्यादा पानी पीने से हमेशा बचना चाहिए ।
  •  खाने के बाद तुरंत लेटना नहीं चाहिए  ।
  • अचार और सिरका आदि अधिक मात्रा में न खाना चाहिए ।
  • जंक फूड और फास्ट फूड के सेवन से बिल्कुल बचना चाहिए ।
  •  बहुत अधिक समय तक खाली पेट नहीं रहना चाहिए ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here