UP के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव का निधन हो गया है । उन्होंने आज सुबह 8.16 पर अंतिम सांस ली । वह 82 साल के थे । मुलायम सिंह गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में वह वेंटिलेटर पर थे । पिछले रविवार से उनकी हालत नाजुक बनी हुई थी । मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद सपा कार्यकर्ताओं में शोक की लहर दौड़ गई ।

पहलवान और शिक्षक रहे मुलायम ने लंबी सियासी पारी खेली। तीन बार यूपी के मुख्यमंत्री रहे। केंद्र में रक्षा मंत्री रहे । उन्हें बेहद साहसिक सियासी फैसलों के लिए भी जाना जाता है ।

22 अगस्त को मेदांता अस्पताल में भर्ती किया गया था। मुलायम सिंह को एक अक्तूबर की रात को आइसीयू में शिफ्ट किया गया था । मुलायम सिंह यादव का मेदांता के एक डॉक्टरों का पैनल इलाज कर रहा था ।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और परिवार के अन्य सदस्य उनके साथ ही है । दिल्ली से उनका शव लखनऊ लाने की तैयारी है । यहां से फिर इटावा ले जाया जाएगा । कल तीन बजे मुलायम सिंह यादव का सैफई में अंतिम संस्कार किया जाएगा । उधर, मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल पहुंचेंगे ।

मुलायम सिंह यादव के निधन भावुक हुए पीएम, कई तस्वीरें ट्वीट कर लिखा- ” उनका निधन पीड़ा देता है  “

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मुलायम सिंह यादव के निधन पर काफी भावुक नजर आए । उन्होंने एक के बाद एक ट्वीट कर मुलायम सिंह यादव के बारे में बहुत कुछ लिखा, इसके साथ ही उन्होंने मुलायम सिंह के साथ अपनी कई तस्वीरों को ट्वीट किया ।

पीएम मोदी ने अपने ट्वीटों की श्रृखंला में लिखा, “मुलायम सिंह यादव जी एक विलक्षण व्यक्तित्व के धनी थे । उन्हें एक विनम्र और जमीन से जुड़े नेता के रूप में व्यापक रूप से सराहा गया, जो लोगों की समस्याओं के प्रति संवेदनशील थे । उन्होंने लगन से लोगों की सेवा की और लोकनायक जेपी और डॉ. लोहिया के आदर्शों को लोकप्रिय बनाने के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया । मुलायम सिंह यादव जी ने यूपी और राष्ट्रीय राजनीति में अपनी अलग पहचान बनाई ।

वह आपातकाल के दौरान लोकतंत्र के लिए एक प्रमुख सैनिक थे । रक्षा मंत्री के रूप में, उन्होंने एक मजबूत भारत के लिए काम किया । उनके संसदीय हस्तक्षेप व्यावहारिक थे और राष्ट्रीय हित को आगे बढ़ाने पर जोर देते थे । जब हमने अपने-अपने राज्यों के मुख्यमंत्रियों के रूप में काम किया, तब मुलायम सिंह यादव जी के साथ मेरी कई बातचीत हुई । घनिष्ठता जारी रही और मैं हमेशा उनके विचारों को सुनने के लिए उत्सुक था । उनका निधन मुझे पीड़ा देता है । उनके परिवार और लाखों समर्थकों के प्रति संवेदना । शांति ।”

 

मुलायम सिंह यादव के निधन पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने जताया शोक

मुलायम सिंह यादव के निधन पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुख जताया है । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुलायम सिंह के पुत्र पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और उनके भाई रामगोपाल यादव से फोन पर बात की और संवेदनाएं व्यक्त की ।

सीएम योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव का निधन अत्यंत दुखदाई है । उनके निधन से समाजवाद के प्रमुख स्तंभ एवं संघर्षशील युग का अंत हुआ है । सीएम योगी ने कहा कि ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति की कामना एवं शोकाकुल परिजनों एवं समर्थकों के प्रति मेरी संवेदनाएं है ।

मुलायम सिंह यादव के निधन पर प्रियंका गांधी ने जताया शोक

प्रियंका गांधी ने मुलायम सिंह यादव के निधन पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथदुख जताया । उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि मुलायम सिंह यादव के निधन का दुखद समाचार मिला । भारतीय राजनीति में उप्र के पूर्व मुख्यमंत्री, भारत सरकार के रक्षामंत्री व सामाजिक न्याय के सशक्त पैरोकार के रूप में उनका अतुलनीय योगदान हमेशा याद रखा जाएगा । अखिलेश यादव व अन्य सभी प्रियजनों के प्रति मेरी गहरी शोक संवेदनाएं । ईश्वर मुलायम सिंह यादव को श्रीचरणों में स्थान दें ।

 

मुलायम सिंह यादव के निधन पर रक्षामंत्री राजनाथ ने किया याद

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने मुलायम सिंह यादव को याद करते हुए ट्विटर पर लिखा, राजनीतिक विरोधी होने के बावजूद मुलायम सिंह जी के सबसे अच्छे संबंध थे। जब भी उनसे भेंट होती तो वे बड़े खुले मन से अनेक विषयों पर बात करते। अनेक अवसरों पर उनसे हुई बातचीत मेरी स्मृति में सदैव तरोताजा रहेगी। दुःख की इस घड़ी में उनके परिजनों एवं समर्थकों के प्रति मेरी संवेदनाएं।

 

मुलायम सिंह यादव के निधन पर गृहमंत्री शाह ने दी श्रद्धांजलि

गृहमंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर लिखा, मुलायम सिंह यादव जी अपने अद्वितीय राजनीतिक कौशल से दशकों तक राजनीति में सक्रिय रहे । आपातकाल में उन्होंने लोकतंत्र की पुनर्स्थापना के लिए बुलंद आवाज उठाई । वह सदैव एक जमीन से जुड़े जननेता के रूप में याद किए जाएंगे। उनका निधन भारतीय राजनीति के एक युग का अंत है । दुःख की इस घड़ी में उनके परिजनों व समर्थकों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं । ईश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दें । ॐ शांति शांति शांति ।

 

मुलायम सिंह यादव और पीएम नरेंद्र मोदी के संबंध

मुलायम सिंह यादव के बारे में कहा जाता रहा है कि वह नाम से भले मुलायम हो लेकिन राजनीति दांव पेंच में वह बड़े कठोर है । हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ उनकी केमेस्ट्री काफी दिलचस्प रही । साल 2014 में जब मोदी सरकार का पहला शपथ ग्रहण था, तब बीजेपी अध्यक्ष रहे अमित शाह उन्हें पहली पंक्ति में हाथ पकड़ कर बिठाया था । इतना ही नहीं प्रधानमंत्री मोदी, यादव परिवार के पारिवारिक समारोहों में भी शामिल हुए थे ।

साल 2016 में नरेंद्र मोदी के लिए मुलायम सिंह यादव ने कहा था, ” पीएम मोदी को देखिए, वह मेहनत और लगन से प्रधानमंत्री बने है । वह एक गरीब परिवार से आते है । वह हमेशा कहते हैं, मैं अपनी मां को नहीं छोड़ सकता और वो उन्हीं के साथ रहना चाहते है ।”

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण समारोह के दिन मंच पर कुछ ऐसा हुआ जिसे देखकर सबके मन में हजारों सवाल उठने लगे । दरअसल, यह वो वाकया था जब मुलायम सिंह यादव को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कान में कुछ फुसफुसाते हुए देखा गया ।

13 फरवरी साल 2019 में जब पीएम मोदी फिर से बने पीएम तो मुलायम सिंह यादव ने कहा – मेरी कामना है कि जितने माननीय सदस्य हैं, दोबारा फिर जीत जाएं‌ । मैं ये भी चाहता हूं, हम लोग तो बहुमत से नहीं आ सकते हैं, प्रधानमंत्री जी आप फिर बने प्रधानमंत्री. हम चाहते हैं जितने सदन में बैठे हैं सब स्वस्थ रहें, सब मिलकर फिर सदन चलाएं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here